कारोबारकोरोनाजॉब्स
Trending

Uber पर छाया कोरोना वायरस का बादल, कंपनी से निकाले जाएंगे इतने कर्मचारी

कुल 3,700 फुल-टाइम कर्मचारियों की छंटनी होगी.

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) और लॉकडाउन की वजह से कंपनियां को भारी असर पड़ने लगा है. हाल ही में अमेरिका और दुनिया की सबसे बड़ी जिम ब्रैंड Gold Gym ने अपने आपको दिवालिया घोषित किया है. लॉकडाउन के कारण अब दुनिया की सबसे बड़ी कैब सर्विस कंपनी उबर (Uber) पर भी मुसीबतों का पहाड़ गिर गया है. कंपनी ने ऐलान किया है कि आर्थिक परेशानियों की वजह से उसे सैकड़ो कर्मचारियों को नौकरी से निकालना होगा. 3700 लोगों की नौकरीदुनियाभर में लॉकडाउन की वजह से ट्रांसपोर्ट और कैब सर्विस को भारी नुकसान हुआ है. यूएस सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) में उबर द्वारा बुधवार को दायर रेगुलेटरी फाइलिंग में कहा, ‘कोरोनावायरस महामारी से उत्पन्न आर्थिक चुनौतियों व अनिश्चितता और व्यवसाय पर इसके प्रभाव के चलते कंपनी ने अपने परिचालन खर्च को कम करने की योजना बनाई है.’

फाइलिंग में कहा गया है कि अपने राइड्स सेगमेंट में कम ट्रिप वॉल्यूम और कंपनी के मौजूदा हायरिंग फ्रीज के कारण उबर अपने कस्टमर सपोर्ट और रिक्रुटर्स टीम को कम कर रहा है. इसके लिए कुल 3 हजार 700 फुल-टाइम कर्मचारियों की छंटनी होगी. कर्मचारियों को लिखे एक पत्र में कंपनी के सीईओ दारा खोसरोशाही ने कहा, ‘हमारी राइड ट्रिप वॉल्यूम्स में काफी गिरावट आने के साथ ही कम्युनिकेशन ऑपरेशन्स सहित इन-पर्सन सपोर्ट की हमारी जरूरत काफी कम हो गई है और अब रिक्रुटर्स के लिए पर्याप्त काम नहीं है.’

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Your Page Title
Close
Close