कारोबार
Trending

एविएशन / विमानन कंपनी वर्जिन ऑस्ट्रेलिया में हिस्सेदारी खरीद सकती है इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज, बिक्री प्रक्रिया में शामिल होने के समझौते पर हस्ताक्षर किए

वर्जिन ऑस्ट्रेलिया 21 अप्रैल को बंद हो गई थी, जिसके चलते 16,000 लोगों की नौकरी खतरे में पड़ गई है।
  • इंडिगो एयरलाइंस में इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज की 37.87% की सबसे बड़ी हिस्सेदारी
  • 21 अप्रैल से बंद पड़ी है वर्जिन ऑस्ट्रेलिया, दिवालिया प्रक्रिया का कर रही सामना

नई दिल्ली.

 इंडिगो एयरलाइंस की सबसे बड़ी शेयरधारक कंपनी इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने शुक्रवार को कहा कि उसने वर्जिन ऑस्ट्रेलिया की बिक्री में भाग लेने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। यह समझौता ऑस्ट्रेलियाई विमानन कंपनी द्वारा कोरोना वायरस महामारी के चलते दिवालिया होने की घोषणा के तीन सप्ताह बाद हुआ।

इंडिगो एयरलाइंस में इंटरग्लोब की 37.87 फीसदी हिस्सेदारी

अरबपति राहुल भाटिया के स्वामित्व वाली इंटरग्लोब की इंडिगो में 37.87 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि भारत की इस सबसे बड़ी एयरलाइन में राकेश गंगवाल, उनके परिवार के सदस्यों और उनके परिवारिक ट्रस्ट की 36.64 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने कहा कि वर्जिन ऑस्ट्रेलिया के संबंध में, इंटरग्लोब एंटरप्राइजेज ने बिक्री प्रक्रिया में भाग लेने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं और हम उस समझौते की गोपनीयता संबंधी आवश्यकताओं से बंधे हैं। इसलिए हम इस समय आगे कुछ भी कहने में असमर्थ हैं।

दिवालिया प्रक्रिया का सामना कर रही है वर्जिन ऑस्ट्रेलिया

वर्जिन ऑस्ट्रेलिया 21 अप्रैल को बंद हो गई थी, जिसके चलते 16,000 लोगों की नौकरी खतरे में पड़ गई है। ऑस्ट्रेलिया की दूसरी सबसे बड़ी विमानन कंपनी वर्जिन ऑस्ट्रेलिया ने 887.60 मिलियन डॉलर के सरकारी ऋण संकट के चलते अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत करने के लिए दिवाला प्रक्रिया के तहत संरक्षण मांगा था और इस संबंध में लेखा फर्म डेलॉय को दिवाला प्रशासक के रूप में नियुक्त किया था।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Your Page Title
Close
Close