महाराष्ट्रमुंबई
Trending

महाराष्ट्र में टल गया संवैधानिक संकट, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ली MLC पद की शपथ

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और आठ अन्य उम्मीदवारों को पिछले हफ्ते राज्य विधान परिषद के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया था.

मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने सोमवार को विधान परिषद के सदस्य के तौर पर शपथ ले ली. दक्षिण मुंबई स्थित विधान भवन में महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानपरिषद के अध्यक्ष रामराजे निम्बालकर ने ठाकरे और 14 मई को निर्विरोध चुने गए अन्य आठ लोगों को सदस्यता की शपथ दिलाई.

उद्धव ठाकरे के अलावा विधान परिषद की उपसभापति नीलम गोरे (शिवसेना), भाजपा के रणजीत सिंह मोहिते पाटिल, गोपीचंद पाडलकर, प्रवीण दटके और रमेश कराड, राकांपा के शशिकांत शिंदे और अमोल मितकरी तथा कांग्रेस के राजेश राठौड़ ने शपथ ली. ये नौ सीटें 24 अप्रैल को खाली हुई थीं.

शिवसेना अध्यक्ष इस चुनाव के साथ पहली बार विधायक बने हैं. उन्होंने पिछले साल 28 नवंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और उनके लिए 27 मई से पहले विधानमंडल के दोनों सदनों में से किसी एक का सदस्य बनना जरूरी था. ठाकरे के बेटे आदित्य भी विधानसभा के सदस्य हैं और तीन पार्टी की गठबंधन सरकार में मंत्री भी हैं.

निर्विरोध चुने गए

ये सभी उम्मीदवार विधान परिषद की उन नौ सीटों के लिए मैदान में थे जो 24 अप्रैल को खाली हुई थीं. एक अधिकारी ने कहा था, ‘वे सभी निर्विरोध चुने गए.’ उन्होंने बताया कि नामांकन वापस लेने की समय सीमा समाप्त हो जाने के बाद नतीजे आधिकारिक रूप से घोषित किए गए.

ठाकरे पर नजर
इस चुनाव के साथ 59 वर्षीय उद्धव ठाकरे पहली बार विधायक बने हैं. वह शिवसेना के अध्यक्ष भी हैं. उन्होंने पिछले साल 28 नवंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और उन्हें 27 मई से पहले विधानमंडल के दोनों सदनों में से किसी एक का सदस्य बनना जरूरी था.

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Your Page Title
Close
Close