कारोबारदेश
Trending

नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर शिकंजा, ED हांगकांग से वापस लाई 1350 करोड़ की ज्वेलरी

इन कंसाइनमेंट को 2018 की शुरुआत में दुबई से हांगकांग भेजा गया था, और ईडी को जुलाई 2018 में इन बेशकीमती चीजों के बारे में खुफिया विभाग से जानकारी मिली थी.
( नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर बड़ी कार्रवाई )

ख़बर सफ़र न्यूज

नई दिल्ली, 11 जून 2020, अपडेटेड 10:30 AM IST

वापस लाई गईं चीजों में डायमंड,पर्ल और बेशकीमती ज्वेलरी ईडी को 2018 में इन बेशकीमती चीजों की मिली थी जानकारी|

बैंकों से कर्जा लेकर विदेश भाग चुके मेहुल चोकसी और नीरव मोदी पर प्रवर्तन निदेशालय की बड़ी कार्रवाई हुई. इन दोनों पर शिकंजा कसते हुए ईडी बुधवार को हांगकांग से हीरे, मोती और ज्वेलरी वापस लाई है, जिसकी कीमत करीब 1350 करोड़ रुपये है. ये सभी बेशकीमती चीजें नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की फर्म से जुड़ी हैं.

नीरव-चोकसी को तगड़ा झटका

दरअसल ईडी के मुताबिक ये बेशकीमती ज्वेलरी हांगकांग की एक कंपनी के गोदाम में थी. ईडी द्वारा नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की (यूएई और हांगकांग की) कंपनियों के सामान के 108 कंसाइनमेंट को हांगकांग से मुंबई वापस लाया गया है, इनमें पॉलिश किए हुए डायमंड, पर्ल और गहने हैं. जिसका वजन करीब 2340 किलोग्राम है.

इन कंसाइनमेंट को 2018 की शुरुआत में दुबई से हांगकांग भेजा गया था, और ईडी को जुलाई 2018 में इन बेशकीमती चीजों के बारे में खुफिया विभाग से जानकारी मिली थी. जिसके बाद से ईडी के अधिकारी लगातार इन कीमती सामानों को भारत वापस लाने के लिए हांगकांग में तमाम अथॉरिटीज के संपर्क में थे, और उन्हें अब जाकर कामयाबी मिली है.

दो साल से ईडी की टीम जुटी थी

मिल रही जानकारी के मुताबिक 108 कंसाइनमेंट में से 32 कंसाइनमेंट नीरव मोदी की कंपनियों से जुड़े हैं, जबकि बाकी सभी मेहुल चोकसी के नियंत्रण वाली कंपनियों से संबंधित हैं. लंबी कानूनी प्रक्रिया के बाद ईडी को इन कंसाइनमेंट को भारत लाने में कामयाबी मिली है.

गौरतलब है कि इससे पहले ED नीरव मोदी और मेहुल चोकसी से जुड़े दुबई और हांगकांग से 33 कंसाइनमेंट को वापस लाई थी. जो करीब 137 करोड़ रुपये का था. बता दें, नीरव मोदी भारत में पंजाब नेशनल बैंक से दो अरब डॉलर के कर्ज की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में आरोपी है.

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Your Page Title
Close
Close